fbpx
  Previous   Next
HomeNationचांद मामा के सफर पर रवाना हुआ चंद्रयान-3, 40 दिन बाद साउथ...

चांद मामा के सफर पर रवाना हुआ चंद्रयान-3, 40 दिन बाद साउथ पोल पर होगी लैंडिंग.

देश के तीसरे 'मिशन मून' चंद्रयान-3 ने चांद की ओर अपनी यात्रा शुरू कर दी है. इसका प्रोपल्शन मॉड्यूल चांद के ऑर्बिट में रहकर धरती से आने वाले रेडिएशन की स्टडी करेगा.

ISRO ने शुक्रवार को मिशन मून के तहत चंद्रयान-3 सफलतापूर्वक लॉन्च कर दिया है. चंद्रयान-3 को शुक्रवार को दोपहर 2:35 बजे आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन स्पेस सेंटर से लॉन्च किया गया. वैज्ञानिकों का लक्ष्य चंद्रमा की सतह पर लैंडर की ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ का है. चंद्रयान-3 स्पेसक्राफ्ट के तीन लैंडर/रोवर और प्रोपल्शन मॉड्यूल हैं. करीब 40 दिन बाद यानी 23 या 24 अगस्त को चंद्रयान-3 के लैंडर और रोवर चांद के साउथ पोल पर उतरेंगे. ये दोनों 14 दिन तक चांद पर एक्सपेरिमेंट करेंगे.

Capture 8

इसरो चीफ एस सोमनाथ ने लॉन्चिंग के बाद कहा कि चंद्रयान-3 ने चांद की ओर अपनी यात्रा शुरू कर दी है. इसका प्रोपल्शन मॉड्यूल चांद के ऑर्बिट में रहकर धरती से आने वाले रेडिएशन की स्टडी करेगा. मिशन के जरिए ISRO पता लगाएगा कि चांद की सतह कितनी सिस्मिक है. इसके साथ ही चांद की मिट्टी और धूल की भी स्टडी की जाएगी. चंद्रयान-3 की लॉन्चिंग सफल रहती है, तो भारत ऐसा करने वाला चौथा देश बन जाएगा. इससे पहले अमेरिका, रूस और चीन चंद्रमा पर अपने स्पेसक्राफ्ट उतार चुके हैं.

20230711 092143 1

चंद्रयान-3 का बजट 615 करोड़
चंद्रयान-3 का बजट लगभग 615 करोड़ रुपये है. इससे 4 साल पहले भेजे गए चंद्रयान-2 की लागत 603 करोड़ रुपये थी. हालांकि, इसकी लॉन्चिंग पर भी 375 करोड़ रुपये खर्च हुए थे.

चांद के सतह के बारे में मिलेगी जानकारी
चंद्रयान-3 मिशन के साथ कई प्रकार के वैज्ञानिक उपकरणों को भेजा जाएगा, जिससे लैंडिंग साइट के आसपास की जगह में चंद्रमा की चट्टानी सतह की परत, चंद्रमा के भूकंप और चंद्र सतह प्लाज्मा और मौलिक संरचना की थर्मल-फिजिकल प्रॉपर्टीज की जानकारी मिलने में मदद हो सकेगी.

211dcd3b 64db 493f a025 cdb92dd234ca 1500x1000 1

पीएम मोदी ने ट्वीट कर दी बधाई
फ्रांस यात्रा पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चंद्रयान-3 की सफल लॉन्चिंग पर ट्वीट किया है. उन्होंने लिखा- ‘चंद्रयान-3 ने भारत की अंतरिक्ष यात्रा में एक नया अध्याय लिखा है. ये हर भारतीय के सपनों और महत्वाकांक्षाओं की ऊंची उड़ान है. ये महत्वपूर्ण उपलब्धि हमारे वैज्ञानिकों के अथक समर्पण का प्रमाण है. मैं उनकी भावना और प्रतिभा को सलाम करता हूं!’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

More News

आयुष्मान योजना के तहत ‘बुजुर्गों’ के अच्छे दिन आ सकता है, बुजुर्गों’ को 5 लाख तक का फ्री इलाज !

देश के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के नागरिकों को आयुष्मान योजना के तहत सरकार लाभार्थियों को ₹5,00,000 तक निःशुल्क स्वास्थ्य बीमा प्रदान की...

एकबार फिर से बाल-बाल बचे ऋषभ पंत , खुद को बचाने के लिए बहुत ज्यादा लगाना होगा जोर !

दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान ऋषभ पंत ने शुक्रवार को लखनऊ सुपर जॉयंट्स को मात देने में उनकी शानदार पारी की भूमिका सबसे अहम रही....

सरसों के तेल में ये चीजें मिलाकर बनाएं कैमिकल रहित नेचुरल हेयर डाई, कभी नहीं लगानी पड़ेगी कैमिकल हेयर कलर

भारत में सरसों तेल का इस्तेमाल सदियों से चला आ रहा है. सरसो तेल का इस्तेमाल खाने के साथ घरेलू इलाज में भी इस...

RELATED NEWS

आयुष्मान योजना के तहत ‘बुजुर्गों’ के अच्छे दिन आ सकता है, बुजुर्गों’ को 5 लाख तक का फ्री इलाज !

देश के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के नागरिकों को आयुष्मान योजना के तहत सरकार लाभार्थियों को ₹5,00,000 तक निःशुल्क स्वास्थ्य बीमा प्रदान की...

सरकार KYC के नियमों में बड़ा बदलाव कर लाने जा रही है Uniform KYC, क्या मिलेगा फा?

KYC हमारे जीवन का एक अहम हिस्सा बन गया है. सभी तरह के बैंकिक कार्यो के लिए केवाईसी सबके लिए अनिवार्य है. हर काम...

टोल टैक्स भुगतान के लिए फास्टैग सिस्टम हुआ पुराना अब सैटेलाइट से कट जाएंगे आपके पैसे. जानें, कैसे काम करेगा सिस्टम !

भारत से विशाल देश में जहां वाहन का भार दिन -प्रतिदिन बढती जा रही है और टोल बूथ पर जाम की समस्या आ हो...